सोमवार, 30 जनवरी 2017

इन्ही तीन बातों पर दुनिया टिकी है

(1) तीन बातें चरित्र को गिरा देती हैं - चोरी, निंदा और झूठ।

(2) तीन चीज़ें किसी का इन्तजार नहीं करती - समय, मौत, ग्राहक‬:
(3) तीन चीजों से सदा सावधान रहिए - बुरी संगत, परस्त्री और निन्दा।
 (4)तीन चीज़ें कमज़ोर बना देती है - बदचलनी, क्रोध और लालच।
(5)‬: तीन चीज़ें जीवन में एक बार मिलती है - मां, बांप, और जवानी
(6)तीन चीजों में मन लगाने से उन्नति होती है - ईश्वर, परिश्रम और विद्या।
‬(7)तीनों चीजों को हमेशा वश में रखो - मन, काम और लोभ
(8) तीन चीज़ें कोई चुरा नहीं सकता - अकल, चरित्र, हुनर।
(9)तीनों व्यक्ति पर सदा दया करो - बालक, भूखे और पागल
 मिट्टी मटका,

"और"
परिवार की कीमत.....
सिर्फ बनाने वाले जानता है,
तोड़ने वाला नही.....!!!!!
‬: तीन व्यक्ति वक़्त पर पहचाने जाते हैं - स्त्री, भाई, दोस्त।